हिन्दीसंपादित करें

प्रकाशितकोशों से अर्थसंपादित करें

शब्दसागरसंपादित करें

खपत संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ खपना]

१. समावेश । समाई । गुंजाइश ।

२. माल की कटती या बिक्री ।

३. खर्च । व्यय ।

४. खपने या खपाने की क्रिया या स्थिति ।